करियर

डोनाल्ड ट्रंप ने IT पेशेवरों को दिया झटका, H-1B वीजा धारकों को नौकरी देने से रोकने संबधी आदेश पर किए हस्ताक्षर

Published

on

अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने संघीय एजेंसियों द्वारा H-1B वीजा धारकों (H-1B visa) को नौकरी देने से रोकने संबधी आदेश पर हस्ताक्षर किए। ट्रंप के इस आदेश पर हस्ताक्षर करने मात्र से अमेरिका जाकर नौकरी करने के इच्छुक भारतीय आईटी पेशेवरों की उम्मीदों को बड़ा झटका लगा है। ट्रंप ने कंपनियों को निर्देश दिए कि वो अमेरिकी नागरिकों को नौकरी दें और H-1B वीजा वाले विदेशी पेशेवरों के साथ कॉन्ट्रैक्ट करने से भी बचें। आपको बता दें ट्रंप प्रशासन ने इससे पहले 23 जून को H-1B वीजा और अन्य विदेशी कार्य वीजा 2020 के अंत तक स्थगित किए थे।

हालिया आदेश पर हस्ताक्षर करते वक्त अमेरिकी राष्ट्रपति के शब्द थे- “आज मैं एक सरकारी आदेश पर हस्ताक्षर कर रहा हूं। जिससे संघीय सरकार द्वारा अमेरिकियों को नौकरी देने के नियम सरल होंगे। हम H-1B नियमन को अंतिम रूप दे रहे हैं जिससे अब किसी भी अमेरिकी कर्मचारी को बदला नहीं जाएगा। H-1B का इस्तेमाल अमेरिकियों के लिए रोजगार सृजन के लिए होगा। इसका इस्तेमाल शीर्ष ऊंचा वेतन पाने वाली प्रतिभाओं के लिए किया जाएगा। अब इसका इस्तेमाल सस्ते श्रम कार्यक्रमों तथा अमेरिका के लोगों के लिए नौकरियां समाप्त करने के लिए नहीं किया जा सकेगा। हमारा प्रशासन सस्ते विदेशी श्रम के बदले में मेहनती अमेरिकियों को नौकरी से बाहर करने की कार्रवाई को कतई बर्दाश्त नहीं करेगा।”

आखिर क्या है H-1B वीजा (What is an H-1B visa?)

भारतीय आईटी पेशेवर H-1B वीजा को काफी पसंद करते हैं क्योंकि ये एक गैर-आव्रजक वीजा है। जिससे विदेशी पेशेवरों की नियुक्ति पेशे से संबंधित अमेरिकी कंपनियों में हो सकती है। अमेरिकी कंपनियां भी सालाना हजारों पेशेवरों को चीन से भारत से अपने यहां काम करने के लिए हायर करती हैं। H-1B वीजा ही इस प्रकिया में कंपनियों और पेशेवरों की मदद करता है। H-1B वीजा की वार्षिक सीमा 65,000 की है। आदेश के बाद सभी संघीय एजेंसियां 120 दिन में ऑडिट करेंगी।

जब ट्रंप ने आदेश पर हस्ताक्षर किए तब उनके साथ नौकरियों की आउटसोर्सिंग के खिलाफ अभियान चलाने वाले कई लोग मौजूद थे। इनमें प्रमुख रूप से फ्लोरिडा के प्रोटेक्ट यूएस वर्कर्स ऑर्गेनाइजेशन की संस्थापक एवम् अध्यक्ष सारा ब्लैकवेल टेनेसी वैली अथॉरिटी में सॉफ्टवेयर इंजीनियर जोनाथन हिक्स तथा पेंसिल्वेनिया के यूएस टेक वर्कर्स के संस्थापक केविन लिन शामिल हैं।

Continue Reading
Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

ईडी ने सुशांत के कुक, बॉडीगार्ड व हेल्पर को पूछताछ के लिए अपने दफ्तर बुलाया

कांग्रेस प्रवक्ता शेरगिल की सरकार से मांग, टीवी डिबेट्स को नियंत्रित करने के लिए बहाल हो आचार संहिता

Fixed Deposit के साथ जुड़े होते हैं ये 5 रिस्क, इन्वेस्टमेंट से पहले जानना बेहतर

दो स्क्रीन वाला microsoft surface duo 10 सितंबर को होगा लॉन्च

प्रधानमंत्री मोदी ने ‘ट्रांसपेरेंट टैक्सेशन प्लेटफॉर्म’ किया लॉन्च, जानिए किसे मिलेगा फायदा

सुशांत सिंह राजपूत को आत्महत्या मामले पर डॉक्टर संदेह, कहा- मेरी समझ से परे

सोने-चांदी के दामों में आई गिरावट, सोने-चांदी में निवेश से बचे निवेशक

ट्विटर पर छिड़ी #sadak2dislike की मुहीम- फिल्म के ट्रेलर को अब तक 64 लाख से अधिक लोगों ने किया नापसंद

CLP मीटिंग के बाद बोले CM गहलोत- इन 19 विधायकों के बिना भी बहुमत साबित कर देते लेकिन…

जाह्नवी कपूर की फिल्म गुंजन सक्सेना को लेकर करण जौहर हुए ट्रोल

बॉलीवुड3 days ago

काम्या पंजाबी ने सुशांत और बहन की चैट शेयर करने पर रिया को लगाई फटकार, दिया मुँहतोड़ जवाब…

बॉलीवुड4 days ago

संजय राउत ने कहा- अंकिता और सुशांत का क्यों हुआ ब्रेकअप, इसकी भी हो जांच

कोरोना वायरस3 days ago

Breaking News: मशहूर शायर राहत इंदौरी कोविड-19 पॉजिटिव, ऑरबिंदो अस्पताल में भर्ती

बॉलीवुड5 days ago

Sushant Singh Case: फ्लैटमेट सिद्धार्थ पिठानी का पकड़ा गया सबसे बड़ा झूठ, सुसाइड से पहले सुशांत सिंह….

बॉलीवुड3 weeks ago

Sushant Singh Rajput को न्याय दिलाने के लिए शुरू हुआ डिजिटल प्रोटेस्ट

राजनीति2 weeks ago

राजस्थान ब्रेकिंग: विधायकों के खरीद फरोख्त से जुड़ी ऑडियो FSL जांच में सही पाई गई

बॉलीवुड1 day ago

अंकिता ने सुशांत की बहन को किया सपोर्ट; SC की सुनवाई पॉजिटिव हो, मांगी थी दुआ

बॉलीवुड1 week ago

सुशांत सिंह राजपूत मामले में सूरज पंचोली ने तोड़ी चुप्पी, किया सच का खुलासा ..

फिल्म रिव्यु3 weeks ago

Dil Bechara movie Review: जिंदगी को दिल खोलकर जीना सिखाती है सुशांत की आखिरी फिल्म

बॉलीवुड1 day ago

यूरोप ट्रिप पर एक पेंटिंग को देख बदल गए थे सुशांत : रिया चक्रवर्ती का दावा