नई दिल्ली. आज कल बिल्डिंग बनाने और इंडस्ट्री वर्क काफी तेजी के साथ हो रहे हैं. शहरों में ऊंची-ऊंची इमारतों की संख्या दिन प्रतिदिन बढ़ती जा रही हैं. आपने भी अक्सर ऊंची इमारतों को बनते देखा होगा. कंस्ट्रक्शन साइट पर हमें अक्सर मशीन और रेत-गिट्टी जैसी कुछ चीजें देखने को मिलती हैं, जिनकी मदद से काम होता है. लेकिन बिल्डिंग मटैरियल के अलावा हरे रंग का  कपड़ा भी कंस्ट्रक्शन साइट पर होता है. इससे अधूरी बनी बिल्डिंग को ढका जाता है. कई लोगों को इसके पीछे की वजह नहीं पता होती. आज हम आपको हरे रंग के कपड़े के बिल्डिंग ढकने की वजह बताने जा रहे हैं.

वर्कर का ध्यान न भटके

बिल्डिंग को हरे रंग से ढकने के पीछे ये तर्क दिया जाता है कि ऐसा करने से कंस्ट्रक्शन साइट पर काम कर रहे वर्कर का ध्यान न भटके. आम तौर पर ज्यादा ऊंचाई पर काम करने पर लोगों को डर लगता है. जब वर्कर ऊपर से नीचे देखते हैं तो कभी-कभी उनका मन विचलित हो जाता है. ऐसे में ये जानलेवा भी हो सकता है.

धूल-मिट्टी को उड़ने से रोकने के लिए भी किया जाता है ऐसा

जब बिल्डिंग बननी शुरू होती है, तो कंस्ट्रक्शन साइट पर भारी मात्रा में धूल और बिल्डिंग में इस्तेमाल होने वाले सिमेंट उड़ते हैं. ऐसे में आसपास रहने वाले लोगों के लिए ये काफी बड़ी मुसीबत बन जाती है. लोगों को परेशानियों का सामना नहीं करना पड़े. इसलिए हरे रंग के कपड़े से बन रही बिल्डिंग को ढक दिया जाता है, ताकि धूल-मिट्टी हवा में उड़ने के बजाय वहीं ठहर जाए.

हरा रंग ही क्यों?

अभी भी एक सवाल आपके मन में आ रहा होगा कि बिल्डिंग को हरे रंग से ही क्यों ढकते हैं सफेद, काले या अन्य किसी रंग से क्यो नहीं? इसकी सीधी वजह ये है कि हरा रंग सफेद, काले या अन्य रंग के मुकाबले ज्यादा दूर से नजर आता है. इसके अलावा रात के वक्त भी ये थोड़ी सी लाइट पड़ने से रिफ्लेक्ट करता है. यही वजह है कि बिल्डिंग बनाते वक्त उसे हरे रंग के कपड़े से ढक दिया जाता है.

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *