उत्तर प्रदेश

Coronavirus Testing: बिहार, यूपी और झारखण्ड में कोरोना टेस्टिंग की रफ़्तार धीमी: स्वास्थ्य मंत्रालय

Published

on

कोरोना टेस्टिंग(Corona Testing) को लेकर डब्ल्यूएचओ (WHO) यानी विश्व स्वास्थ्य संगठन के मानकों के मुताबिक, प्रति दस लाख आबादी पर रोज 140 टेस्ट होने चाहिए. केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय ने दावा किया है कि 22 सूबे डब्ल्यूएचओ के मानकों के अनुरूप ही कोरोना संक्रमण की टेस्टिंग कर रहे है. लेकिन डब्ल्यूएचओ के मानकों के अनुरूप टेस्टिंग करने वाले इन राज्यों में उत्तर प्रदेश, बिहार और झारखंड शामिल नहीं है. 

इस बाबत जानकारी देते हुए केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय में विशेष कार्यधिकारी राजेश भूषण ने कहा कि जिन राज्यों में कम टेस्ट हो रहे हैं, हम उनसे भी अनुरोध करते हैं कि वे अपनी टेस्टिंग बढ़ाएं. उन्होंने उन 22 राज्यों का विस्तृत में जानकारी दी, जहां टेस्टिंग डब्यूएचओ के मानकों के अनुरूप हो रही है. हालाँकि उन्होंने उन राज्यों में हो रही टेस्टिंग का ब्योरा नहीं दिया, जहां टेस्टिंग डब्ल्यूएचओ के मानकों से कम हो रही है.

राजधानी दिल्ली और गोवा टेस्टिंग के मामले में टॉप पर

टेस्टिंग के मामले राजधानी दिल्ली और गोवा का स्थान टॉप पर है. इन जगहों पर कोरोना टेस्टिंग की संख्या सबसे अधिक है. गोवा में प्रति दस लाख आबादी पर 1058 तो राजधानी दिल्ली में यही संख्या 978 पर है. जबकि हरियाणा में 420 तो उत्तराखंड में महज 242 टेस्ट ही हो रहे है.

रिकवरी रेट में भी दिल्ली का दूसरा स्थान

इस दौरान केंद्र सरकार ने रिकवरी रेट के भी आंकड़े जारी किए हैं. इसके मुताबिक रिकवरी रेट के मामले में भी लद्दाख के बाद दिल्ली का दूसरा स्थान है. जहाँ लद्दाख में यह दर 87 फीसदी का है तो दिल्ली में 80 फीसदी का रिकवरी रेट है.

उत्तर प्रदेश

कोरोना महामारी से उत्तर प्रदेश की कैबिनेट मंत्री कमल वरुण का हुआ निधन

Published

on

उत्तर प्रदेश की कैबिनेट मंत्री कमल रानी वरुण (Kamal Rani Varun) का निधन हो गया है. 2 सप्ताह पहले उनकी कोरोना रिपोर्ट पॉजिटिव (Corona Report) आई थी जिसके बाद लखनऊ के संजय गांधी पीपीआई अस्पताल (Sanjay Gandhi Hospital) में उन्हें भर्ती कराया गया. शनिवार शाम उनकी तबियत अचानक बिगड़ गई जिसके बाद उन्हें वेंटिलेटर सपोर्ट पर शिफ्ट किया गया आज रविवार सुबह 9:00 बजे उन्होंने अंतिम सांस ली. कमल रानी के निधन की पुष्टि एसजीपीजीआई के डॉक्टर अमित अग्रवाल ने की.

आपको बता दें आज उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ राम मंदिर जन्मभूमि की तैयारियों का जायजा लेने के लिए अयोध्या का दौरा करने वाले थे लेकिन कमल रानी वरुण (Kamal Rani Varun) के निधन की सूचना मिलने के बाद यह दौरा स्थगित कर दिया गया है.
कमल रानी यूपी विधानसभा के सदस्य और सांसद भी रह चुकी हैं. वह योगी सरकार में टेक्निकल एजुकेशन मंत्री थी.
कमल वरुण (Kamal Rani varun) के निधन पर योगी आदित्यनाथ ने ट्वीट करके शोक प्रकट करते हुए लिखा है कि “उत्तर प्रदेश सरकार में मेरे सहयोगी कैबिनेट मंत्री श्रीमती कमल रानी वरुण जी के असमय निधन की सूचना, व्यथित करने वाली है. प्रदेश ने आज एक समर्पित जननेत्री को खो दिया. उनके परिजनों के प्रति गहरी संवेदना.”

मुख्यमंत्री कार्यालय की ओर से ट्वीट करके लिखा गया कि कमल वरुण (kamal varun) का लखनऊ में इलाज के दौरान निधन हो गया है. वह 11वीं व 12वीं की लोकसभा के सदस्य थी. वरुण जी ने एक जनप्रतिनिधि के रूप में जन आकांक्षाओं का सम्मान रखा. मंत्री के रूप में विभागीय कार्यों को कुशलतापूर्वक निर्वहन करने में सराहनीय योगदान दिया है.” मंत्री कमला रानी वरूण का पार्थिव शरीर लखनऊ से सीधे कानपुर जाएगा. वहां पर कोविड प्रोटोकॉल के तहत अंतिम संस्कार किया जाएगा. 18 जुलाई को उनकी कोरोना रिपोर्ट पॉजिटिव आई थी तब से ही वह लगातार ऑक्सीजन और छोटे वेंटिलेटर सपोर्ट पर थी. 62 वर्षीय कमल ने राजनीति पार्षद के रूप में अपने करियर की शुरुआत की थी.

Read more: Rajasthan Crisis : गहलोत सरकार ने राजधानी को छोड़ जैसलमेर को ही क्यों चुना ? जाने इनसाइड स्टोरी

Continue Reading

उत्तर प्रदेश

यूपी में अब ट्रैफिक नियमों का पालन न करने पर भरना होगा दोगुना जुर्माना

Published

on

भारत में नागरिकों की सुरक्षा और सड़क दुर्घटनाओं को कम करने के लिए केंद्र सरकार ने पहले ही गाड़ी चलाते हुए लापरवाही करने वाले लोगों पर जुर्माना बढ़ा दिया था। अब उत्तरप्रदेश सरकार ने इसपर ही और सख्त रुख अपना लिया है। उत्तरप्रदेश में रहने वालों को यह जानना जरूरी है कि अब उत्तरप्रदेश में यातायात के नियमों का उल्लंघन करने पर आपको दोगुना जुर्माना भरना होगा। उत्तरप्रदेश में यह नियम दो पहियों और चार पहियों दोनों प्रकार के वाहनों के लिए लागू है। अगर दो पहियों की गाड़ी चलाते वक्त हेलमेट नहीं पहना तो यह आपके लिए भारी पड़ सकता है। साथ ही कार चलाते वक्त सीट बेल्ट ना लगाने पर भी आपको अब दोगुना जुर्माना भरना होगा। 

आपको बता दें उत्तरप्रदेश यातायात के मुख्य सचिव राजेश कुमार सिंह की ओर से यह जानकारी दी गयी कि अब उत्तरप्रदेश में गाड़ी चलाते वक्त हेलमेट ना पहनने वालों पर 1,000 रुपये का जुर्माना लगेगा जो की पहले 500 रूपये था। अब इसे बढ़ा कर दोगुना कर दिया है। वहीं चार पहियों की गाड़ी चलाते वक्त सीट बेल्ट न पहनने पर भी एक हज़ार रूपये का जुर्माना भरना होगा। साथ ही आपको बता दें गाड़ी चलाते वक्त फ़ोन पर बात करना भी अब भारी पड़ेगा। नए नियमों के अनुसार, गाड़ी चलाते समय मोबाइल पर बात करते हुए पहली बार पकड़े जाने पर 1,000 रुपए जुर्माना लगेगा। दूसरी बार में यह जुर्माना10,000 रुपए हो जाएगा। उत्तरप्रदेश में यह नियम लागू हो चुके हैं। 

जानिए क्या हैं नए नियम –

1 – उत्तरप्रदेश में अब बिना लाइसेंस के गाड़ी चलाने वालों को 5,000 रूपये का जुर्माना भरना होगा। 

2 – बिना हेलमेट गाड़ी चलाने वालों को भी 1,000 रूपये का जुर्माना भरना होगा। 

3 – पहली बार पार्किंग का उल्लंघन करने पर 500 रूपये का जुर्माना रखा गया है। लेकिन यही गलती दूसरी बार की तो 1,500 रूपये का जुर्माना भरना होगा। 

4 – बिना सीट बेल्ट कार चलाने पर 1,000 रूपये का जुर्माना रखा गया है। 

5 – बिना लाइसेंस गाड़ी चलाने पर 5,000 रुपये  का जुर्माना भरना पड़ेगा। 

6 – गाड़ी की गति सीमा नियम का उल्लंघन पर 4,000 रूपये का जुर्माना भरना होगा।

7 – अपने ड्राइविंग लाइसेंस की गलत जानकारी देने पर 10,000 तक का भारी जुर्माना भरना होगा। 

8 –  सड़क पर फायर ब्रिगेट और एम्बुलेंस वाहनों को रास्ता न देने पर भी 10,000 रूपये का जुर्माना भरना होगा। 

9 – साथ ही पहले ट्रैफिक अधिकारियों के काम ने बाधा डालने पर 1,000 रूपये  का जुर्माना था जिसे अब बढ़ा कर 2,000 रूपये कर दिया है। 

10 – बता दें अब अवैध संशोधन करने के बाद वाहन बेचने पर 1 लाख रुपये का जुर्माना लगेगा।

Continue Reading

उत्तर प्रदेश

UP के बुलंदशहर में 25 जुलाई से लापता वकील की मिली लाश, प्रियंका बोलीं- UP में क्राइम-कोरोना कंट्रोल से बाहर

Published

on

By

उत्तर प्रदेश के बुलंदशहर (Bulandshahr) में शनिवार को 8 दिन से लापता वकील की लाश मिली है. लापता वकील धर्मेंद्र चौधरी (Advocate Dharmendra Chaudhary) के शव को पुलिस ने एक मार्बल गोदाम से बरामद किया है. कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी वाड्रा ने 25 जुलाई से लापता वकील धर्मेंद्र चौधरी के शव मिलने को लेकर योगी सरकार पर तीखा हमला बोला है.

कांग्रेस महसचिव और पार्टी की उत्तरप्रदेश प्रभारी प्रियंका गाँधी ने शनिवार को योगी सरकार पर एक ट्वीट के जरिये हमला बोलते हुए कहा कि उत्तर प्रदेश में कोरोना और क्राइम दोनों ही आउट ऑफ कंट्रोल है. प्रियंका गांधी ने ट्वीट कर कहा, “उत्तर प्रदेश में जंगलराज फैलता जा रहा है, क्राइम और कोरोना कंट्रोल से बाहर है. बुलंदशहर में धर्मेन्द्र चौधरी जी का 8 दिन पहले अपहरण हुआ था, कल उनकी लाश मिली. कानपुर, गोरखपुर, बुलंदशहर. हर घटना में कानून व्यवस्था की सुस्ती है और जंगलराज के लक्षण हैं. पता नहीं सरकार कब तक सोएगी?.”

रिपोर्ट्स के मुताबिक 37 वर्षीय वकील धर्मेंद्र चौधरी के शव को पुलिस ने बुलंदशहर जिले के कोतवाली खुर्जा क्षेत्र के एक फैक्ट्री से बरामद किया है. पुलिस के जांच में प्रथम दृष्टया हत्या के पीछे करीब 80 लाख की रकम ब्याज पर देने का मामला सामने आया है. बताया जा रहा है कि धर्मेंद्र चौधरी ने अपने दोस्त को 81 लाख रुपये बतौर ब्याज दे रखी थी. बुलंदशहर पुलिस का कहना है कि धर्मेंद्र चौधरी जब बार-बार पैसे मांगने लगा तो उसे पहले किडनैप कर लिया गया, बाद में उसकी हत्या कर दी गई.

हालाँकि 8 दिन पहले लापता हुए 37 वर्षीय वकील धर्मेंद्र चौधरी को इस दौरान खोजने के लिए पुलिस की कई टीमें लगी हुई थी. लेकिन बावजूद इसके वकील चौधरी को पुलिस सकुशल खोजने में नाकामयाब रही. शुक्रवार देर रात को मॉर्बल गोदाम में अधिवक्ता धर्मेंद्र चौधरी का शव बरामद किया गया.

यूपी में बढ़ते अपराधिक घटनाओ को लेकर प्रियंका गाँधी का सीएम योगी को ख़त

उत्तर प्रदेश में बढ़ते अपराधिक घटनाओं के बीच कांग्रेस महसचिव और पार्टी की उत्तरप्रदेश प्रभारी प्रियंका गाँधी ने एक बार फिर उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ को पत्र लिख कर चिंता जताई है. प्रियंका गांधी ने उत्तर प्रदेश में कानून व्यवस्था के लचर हालात के पीछे संभल में रामौतार शर्मा नाम के व्यक्ति की हत्या की घटना का हवाला देते हुए सीएम योगी को लिखे पत्र में कहा है कि दिन दहाड़े आम लोगों के साथ घट रही आपराधिक घटनाओं के चलते प्रदेश के आमजनों के मन में एक डर का भाव बैठ गया है. यूपी में कोरोना और क्राइम दोनों बेलगाम हो चुके है.

प्रियंका गांधी ने सूबे की योगी सरकार पर हमला बोलते हुए कहा है कि उत्तर प्रदेश में अपहरण एक उद्योग बन चुका है और हत्या एक रोजनामचा. लूट एवं बलात्कार की घटनाओं से प्रदेश दहल उठा है. यह सब सिर्फ एक चीज की तरफ इशारा करता है कि किसी न किसी कारण अपराधी बेखौफ हैं और शासन-प्रशासन का इकबाल खत्म हो गया है. कांग्रेस महासचिव गाँधी ने संभल जिले के चंदौसी में रहने वाले रामौतार शर्मा की हत्या के मामले में योगी सरकार का ध्यान आकृष्ट करते हुए उनके मदद की अपील की है.

Continue Reading

उत्तर प्रदेश

भगवान राम के रंग में रंगी अयोध्या, जानिए भूमि पूजन से पहले कैसी चल रही हैं तैयारियां

Published

on

काफी सालों के इंतज़ार के बाद राम मंदिर (Ram mandir) निर्माण की शुभ घड़ी बहुत करीब हैं। आने वाले 5 अगस्त को देश के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (PM Narendra modi) अयोध्या जाकर राम जन्म भूमि का शिलन्यास करेंगे। उसके बाद राम मंदिर (Ram Mandir) निर्माण का काम शरू हो जायेगा। फ़िलहाल राम मंदिर भूमि पूजन की तैयारी जोरो शोरों से की जा रही हैं। इस मौके पर पूरे अयोध्या शहर को ही भगवान राम के रंग में ही रंग दिया गया है।

राम मंदिर भूमि पूजन (Ram mandir bhoomi poojan) के मौके पर अयोध्या की सड़कों को पीले रंग से रंगा जा रहा है। अयोध्या की दीवारों पर भगवान राम और माता सीता की तस्वीर बनाई जा रही है। साथ ही रामचरित मानस के बाकी पात्रों की भी आकृति दीवारों पर बनाई जा रही हैं। इस मौके पर जब 5 अगस्त को प्रधनमंत्री पहुंचेगे तब उनको अयोध्या की दीवारों पर ही भगवान राम के दर्शन हो जायेंगे। साथ ही अयोध्या में विभिन्न रंग की रोशनियाँ भी लगाई जा रही है। जिससे अयोध्या और भी सुन्दर और आकर्षक लगे।

अयोध्या के मेयर ऋषिकेष उपाध्याय ने कहा, “अयोध्या की सभी इमारतों, घरों और मुख्य सड़कों को पीले रंग से रंगा जा रहा है। हम अयोध्यान को त्रेता युग की तरह दिखाने का प्रयास कर रहे हैं, जब भगवान राम ने अयोध्या पर शासन किया था।”

भूमि पूजन से पहले की तैयारियां देखकर रह कोई यह मान रहा है की यह तो भगवान राम की ही नगरी है। पूरे अयोध्या शहर में भगवान राम की रौनक है। भूमि पूजन के मौके पर अयोध्या में लाउडस्पीकर भी लगाए जाएंगे। जिसमें भगवान राम के गीत 5 अगस्त को पूरे दिन चलेंगे। इससे अयोध्या का पूरा माहौल ही राममह हो जायेगा।

Read more: Ayodhya Ram mandir: अयोध्या का राम मंदिर होगा दुनिया का तीसरा सबसे बड़ा मंदिर

साथ ही अयोध्या शहर को 5 अगस्त को फूलों से सजाया जायेगा। सड़क के किनारे और जगह-जगह फूल लगाए जायेंगे। जिससे अयोध्या शहर की रौनक में चार चाँद और लग जायेंगे। इतना ही नहीं साथ ही अयोध्या में स्थित सरयू नदी और शहर के विभिन्न इलाकों में एक लाख के भी अधिक दीपक जला कर भगवान राम के मंदिर का भूमि पूजन भव्यता से मनाया जायेगा। अयोध्या के राम मंदिर भूमि पूजन की तैयारियों में दिवाली और होली का त्यौहार दोनों ही दिखाई दे रहे हैं। अयोध्या की सड़कों की दीवारों पर रंग किया जाना होली के त्यौहार को दर्शाता है और राम मंदिर भूमि पूजन के समय 1 लाख के अधिक दिए जलाए जाना दीवाली के त्यौहार को दर्शाता है।

Continue Reading

उत्तर प्रदेश

UP के गाजीपुर से लापता हुए कोरोना के 42 मरीज, फ़ोन नंबर और पता भी फर्जी निकला

Published

on

By

कोरोना संक्रमण के वजह से भारत की स्थिति बद से बदतर होती जा रही है. संक्रमण की वजह से मौतों के मामले में भारत अब इटली को पछाड़कर 5वें नंबर पर पहुंच गया है. वेबसाइट worldometers के मुताबिक, शुक्रवार सुबह तक भारत में कोरोना से 35 हजार 786 लोगों की मौत हो चुकी है. शुक्रवार सुबह स्वास्थ्य मंत्रालय द्वारा जारी किये आंकड़ों के मुताबिक पिछले 24 घंटे में 55 हजार 79 नए मामले सामने आए है. कोरोना संक्रमण के तेजी से बढ़ते मामलों के बीच उत्तर प्रदेश के गाजीपुर से एक सनसनी खेज मामला सामने आया है. जहाँ 42 कोरोना पॉजिटिव मरीज लापता हो गए हैं.

ऐसे वक़्त में जब उत्तर प्रदेश के गाजीपुर जिले में कोरोना संक्रमण तेजी से पाँव पसार रहा है. तब इस तरह के लापरवाही का मामला सामने आया है. 42 कोरोना पॉजिटिव मरीज के लापता होने को लेकर जिला प्रशासन और पुलिस को अब तक कोई सुराग नहीं मिला है. बताया जा रहा है कि लापता हुए मरीजो ने टेस्ट करवाने के वक़्त फॉर्म में फर्जी मोबाइल नंबर व पता भरा था. जिससे उनकी ट्रेसिंग नहीं हो पा रही है.

यूपी के गाजीपुर जिले में हालात ये है कि रोजाना कोरोना के 50 से ज्यादा पॉजिटिव केस सामने आ रहे हैं. ऐसे में 42 कोरोना मरीजों के लापता होने और अब तक उनके बारे में कुछ पता नहीं लग पाने की वजह से संक्रमण के प्रसार का खतरा और बढ़ गया है. लापता हुआ सभी मरीजों के फ़ोन या तो स्विच ऑफ आ रहे है या उन्होंने गलत नंबर ही दर्ज करवा दिए है. जिसकी वजह से उन्हें ट्रेस करने में प्रशासन के हाथ पाँव फुल रहे है.

पूरे मामले को लेकर एसीएमओ केके वर्मा ने कहा है कि लोगों को कोरोना पॉजिटिव होने की जानकारी मिलते ही वे अपना फोन स्विच ऑफ कर ले रहे हैं. जबकि कई लोग ऐसे है जो टेस्टिंग के दौरान सही मोबाइल नंबर और पता नहीं देते हैं. इस वजह से टेस्ट का रिजल्ट पॉजिटिव आने के बाद उन्हें ट्रैक करना हमारे लिए मुश्किल हो जाता है.

एसीएमओ केके वर्मा ने बताया कि यह मामला तब प्रकाश में आया जब टेस्ट करा चुके 42 लोग कोरोना पॉजिटिव निकले लेकिन फॉर्म में उनके द्वारा लिखे गए फोन नंबरों या फॉर्म में उल्लिखित उनके घर के पते पर संपर्क नहीं साधा जा सका. जबकि कई मीडिया रिपोर्ट्स से यह बात भी निकल कर सामने आ रही है कि मरीज पिछले 15 दिनों से गायब हो रहे हैं और उनकी संख्या 42 हो जाने के बाद जिला स्वास्थ्य विभाग ने इस गंभीर मसले को उठाया है.

अगर उत्तर प्रदेश के गाजीपुर जिले में कोरोना के प्रकोप की बात करें तो गुरुवार को कुल 70 नये कोरोना पॉजिटिव केस मिलने के बाद अब तक कुल 1138 कोरोना संक्रमण के मामले पाए गए है. हालाँकि इनमे से 567 कोरोना मरीज ऐसे है जो ठीक होने के बाद डिस्चार्ज हो चुके हैं. जबकि अभी भी जिले में कोरोना के एक्टिव मामलों की संख्या 561 है.

यह भी पढ़ें: स्टडी में खुलासा: 5 साल से छोटे बच्चों में वायरस के 100 गुना अधिक होने की संभावना

Continue Reading

उत्तर प्रदेश

अब UP में भी कोरोना संक्रमण का लेवल जानने के लिए होगा सीरो सर्वे

Published

on

By

सीरो सर्वे: देश सहित उत्तरप्रदेश में भी कोरोना वायरस संक्रमण के मामले तेजी से बढ़ रहे है. ऐसे में तेजी से बढ़ते प्रसार को देखकर सूबे का स्वास्थ्य विभाग हलकान है. लोगो के बिच वायरस की प्रकृति व संक्रमण के स्तर का पता लगाने के लिए अगले महीने के शुरूआती दिनों से ही राज्य में सीरोलॉजिकल सर्वे कराने की तैयारी है. जिसके तहत लोगों के रैंडम खून के नमूने लेकर एंटीबॉडी की जांच की जायेगी और पता लगाया जाएगा कि इनमे रोग प्रतिरोधक क्षमता का क्या स्तर है.

सूबे में सीरोलॉजिकल सर्वे कराने की संभावित तारीख 5 अगस्त बताई जा रही है. इसके लिए स्वास्थ्य विभाग एक लाख किट खरीद रहा है, जिससे ये परीक्षण अलग-अलग जगह सम्पादित किया जा सके. शुरू में यह सर्वे आगरा, मेरठ के साथ ऐसे जिलों में करने की तैयारी है जहाँ पहले तो संक्रमण के मामले ज्यादा थे. लेकिन अब बीतते समय के साथ कम हो रहे है.

ऐसे जिलों में सर्वे के पीछे का वजह प्रतिरोधक क्षमता के बारे मे ज्यादा सटीक आंकड़े आने की गुंजाइश को बताया जा रहा है. इस बाबत प्रदेश सरकार के स्वास्थ्य विभाग का कहना है कि संक्रमण को आगे बढ़ने से रोकने या जोखिम के स्तर के बारे में वास्तविक डाटा का पता लगाने का एकमात्र तरीका लोगों में एंटीबॉडी की मौजूदगी का परिक्षण करना ही है.

उल्लेखनीय है कि अंतर्राष्ट्रीय स्टार पर भी सीरोलॉजिकल सर्वे को खूब तवज्जो मिल रहा है. सिरों सर्वे को एक निश्चित संक्रमण के खिलाफ एंटीबॉडी के लेवल को मापने वाला विश्वसनीय तरीका माना जाता है. इस परिक्षण का उपयोग बड़े पैमाने पर टीकाकरण की जांच करने और लोगों की प्रतिरोधक क्षमता का स्तर देखे जाने के लिए भी किया जा सकता है.

इससे पहले देश में राजधानी दिल्ली, महाराष्ट्र सहित कई राज्यों में सीरो सर्वे के जरिये परिक्षण किया गया है. बताते चले कि उत्तर प्रदेश में कोरोना संक्रमित मरीजों का आंकड़ा 75 हजार के पार पहुँच गया है. राज्य में अब तक 1587 लोगों की इस जानलेवा वायरस के चपेट में आने से मौत भी हो चुकी है. वहीं, कुल कोरोना संक्रमित मामलों में 46 हजार मरीज ऐसे है जो इलाज के बाद ठीक चुके है जबकि सूबे में अब भी एक्टिव मामलों की संख्या 32 हजार से अधिक है. मतलब इतनी ही संख्या अभी वैसे संक्रमित मरीजों की है जो फ़िलहाल इलाज करवा रहे है.

यह भी पढ़ें: Corona LIVE: देश में 16 लाख के पार कोरोना संक्रमण मामले, मौतों के मामले में 5वें स्थान पर पहुंचा भारत

Continue Reading

राजस्थान: SOG ने हॉर्स ट्रेडिंग मामले में राजद्रोह की धारा हटाई, केस ACB को ट्रान्सफर हुआ

Redmi 9 Prime भारत में लॉन्च, बजट रेंज में मिलेंगे पांच कैमरे

बिहार के डीजीपी ने सुशांत सिंह राजपूत मामले में मुंबई पुलिस की मंशा पर उठाए सवाल

5 अगस्त से खोले जाएंगे जिम-योग सेंटर, जानिए पूरी जानकारी

रिया चक्रवर्ती के वकील सतीश मानशिंदे ने कहा- नहीं हुईं एक्ट्रेस लापता…

कक्षा छठी से आठवीं तक के लिए वैकल्पिक शैक्षणिक कैलेंडर लॉन्च

Sushant Singh Case: दिशा सलियन से लेकर रिया चक्रवर्ती तक, मुंबई पुलिस ने किए ये बड़े खुलासे, जानिए

Corona in Bihar: बिहार में कोरोना का कहर जारी, अब तक 336 की मौत, संक्रमित मरीजों का आंकड़ा 60 हजार के करीब

मनीष शर्मा करेंगे Tiger 3 को डायरेक्ट, इस बार आमने-सामने होंगे जोया और टाइगर

एकता की XXX Uncensored पर बवाल, सेना की छवि खराब दिखाने पर सरकार सख़्त, रक्षा मंत्रालय ने एनओसी लेने को कहा

बॉलीवुड2 weeks ago

Sushant Singh Rajput को न्याय दिलाने के लिए शुरू हुआ डिजिटल प्रोटेस्ट

राजनीति3 days ago

राजस्थान ब्रेकिंग: विधायकों के खरीद फरोख्त से जुड़ी ऑडियो FSL जांच में सही पाई गई

फिल्म रिव्यु2 weeks ago

Dil Bechara movie Review: जिंदगी को दिल खोलकर जीना सिखाती है सुशांत की आखिरी फिल्म

उत्तर प्रदेश3 days ago

UP के बुलंदशहर में 25 जुलाई से लापता वकील की मिली लाश, प्रियंका बोलीं- UP में क्राइम-कोरोना कंट्रोल से बाहर

फिल्म रिव्यु1 week ago

सुशांत की आखिरी फिल्म Dil Bechara ने रिलीज होते ही IMDB Rating से बनाया नया रिकॉर्ड

बॉलीवुड6 days ago

भारत के सबसे महंगे वकीलों में से एक सतीश मनेशिंदे लड़ेंगे रिया चक्रवर्ती का केस

देश4 days ago

सुशांत सिंह सुसाइड मामले की जांच CBI को ट्रान्सफर करने पर बोले CM उद्धव- उनके फैन्स को बताना चाहता हूँ…

देश6 days ago

Sushant Suicide Case: महाराष्ट्र सरकार ने कहा CBI जांच की जरूरत नहीं

बॉलीवुड2 weeks ago

बड़ा खुलासा: सुशांत पर भी लगा था MeToo का आरोप, संजना सांघी ने बताई पूरी सच्चाई

बॉलीवुड6 days ago

FIR के बाद भी रिया चक्रवर्ती की गिरफ्तारी ना होने पर बिहार पुलिस का खुलासा…

ट्रेंडिंग न्यूज़