टेक न्यूज़

भारत के बाद अब अमेरिका में भी लग सकता है TikTok पर प्रतिबंध, डोनाल्ड ट्रंप ने दिए ये संकेत

Published

on

अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप (Donald Trump) ने बीते शुक्रवार को एक बार फिर संकेत दिए हैं कि वे चीनी मोबाइल ऐप TikTok पर जल्द ही प्रतिबंध (Banned) लगा सकते हैं। हालांकि उन्होंने यह भी खुलासा किया है कि टिकटॉक के अलावा उनके पास कई दूसरे विकल्प भी है, जिस पर बातचीत की जा रही है।

बता दें कि अमेरिका में भी टिकटॉक पर बैन (Tiktok banned) लगाने के कदम ने भारत में जून माह में इस संबंध में लिए गए कई फैसले के बाद रफ्तार पकड़ ली है। बता दें कि भारत ने 29 जून को टिकटॉक (TikTok Banned in India) समेत चीन की कुल 59 ऐप को बैन कर दिया था। पूर्वी लद्दाख में भारत और चीन के बीच चल रहे सीमा विवाद (India-China Fight) के बीच यह कदम उठाया गया था।

अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्‍ड ट्रंप (Donald Trump) ने बीते शुक्रवार को अपने बयान में कहा कि “हम चीनी ऐप टिकटॉक के मामले को देख रहे हैं और हम जल्द ही टिकटॉक को बैन (Tiktok banned) कर सकते हैं। हो सकता है कि हम कुछ दूसरी चीजें भी करें। हमारे पास ढ़ेर सारे विकल्प हैं, लेकिन हम टिकटॉक ऐप के संबंध में कई विकल्पों पर चर्चा कर रहे हैं।”

Read more: Twitter को टक्कर देने के लिए भारत में लॉन्च हुआ Koo ऐप, अपनी भाषा में कर सकेंगे चैट

उधर अमेरिका के विदेश मंत्री माइक पोम्पिओ ने एक डिजिटल बैठक में कहा था कि, “भारतीयों ने कुछ ही दिन पहले फैसला किया कि वे भारत (TikTok Banned in India) में चल रही सभी चाइनीज ऐप्स को हटाने जा रहे हैं। उन्होंने ऐसा इसलिए नहीं किया कि अमेरिका (America) ने उनसे ऐसा करने को कहा था।”

Continue Reading
Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

टेक ज्ञान

अमेरिका में बैन होने से बचा टिकटॉक, पैरेंट कंपनी ने माइक्रोसॉफ्ट को बेची पूर्ण हिस्सेदारी

Published

on

डाटा सिक्योरिटी को लेकर भारत में पहले से ही बैन हो चुका विवादित ऐप टिकटॉक (Tiktok ban) अमेरिका में भी बैन होने वाला था। तब टिकटॉक की पैरेंट कंपनी बाइटडांस ने फैसला लिया कि वह अमेरिकी बैन से बचने के लिए कुछ हिस्सेदारी बेच सकता है, जिसके लिए अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप राजी नहीं थे और वे आज टिकटॅाक पर प्रतिबंध लगाने वाले थे। लेकिन ऐन वक्त पर टिकटॅाक ने पूरी हिस्सेदारी अमेरिका को दी। शुरूआत में माइक्रोसॉफ्ट, टिकटॉक का केवल अमेरिकी व्यापार संभालेगी। हो सकता है कि माइक्रोसॉफ्ट (microsoft) टिकटॉक के भारतीय बाजार की जिम्मेदारी संभाले। अगर ऐसा होता है तो भारत में टिकटॉक की वापसी तय है।

यह भी पढ़े :- Whatsapp में इस सप्ताह जुड़े कमाल के नए फीचर्स, जानें

माना जा रहा है कि माइक्रोसॉफ्ट और टिकटॉक का सौदा 5 बिलियन डॉलर में हो सकता है। माइक्रोसॉफ्ट ने टिकटॉक को खरीदा तो अमेरिका में यूजर्स के डाटा की जिम्मेदारी उसकी होगी। यूजर्स का डाटा माइक्रोसॉफ्ट के सर्वर पर स्टोर होगा। हालांकि करार को लेकर टिकटॉक या माइक्रोसॉफ्ट ने कोई आधिकारिक बयान नहीं दिया है। अमेरिका में टिकटॉक के मंथली एक्टिव यूजर्स 80 मिलियन हैं। ऐसे में कंपनी बड़े नुकसाना से बच गई है।

यह भी पढ़े :- Google Pixel 4a की कल है लॉन्चिंग, जानें क्या है खास इस स्मार्टफोन में?

इसके अलावा भारत में टिकटॅाक की वापसी की उम्मीद भी बढी। भारत में टिकटॉक बैन (Tiktok ban) की स्थिति तब पैदा हुई थी जब पूर्वी लद्दाख में चीनी सेना ने अपनी विस्तारवादी नीतियों को बल देते हुए भारतीय सीमा में घुसपैठ की कोशिश की और गलवान घाटी में भारतीय सैनिकों पर 15-16 जून की मध्यरात्रि में हमला बोला। तब देश में चीनी उत्पादों के बहिष्कार की लहर के बीच भारतीय सरकार ने टिकटॉक को भारतीय डाटा को विदेशी सर्वरों पर भेजने में संदिग्ध पाया। इस क्रम में सरकार ने पहले चरण में 59 ऐप्लीकेशन बैन (59 apps banned) की। जिनमें टिकटॉक भी शामिल थी। टिकटॉक का भारत में बैन (Tiktok ban) होना कंपनी के लिए बड़ा आर्थिक झटका था। इसी से बचने के लिए टिकटॉक की पैरेंट कंपनी ने अब ट्रंप प्रशासन के सामने घुटने टेके और माइक्रोसॉफ्ट से हाथ मिलाया है।ॉ

Continue Reading

ऑटोमोबाइल

भारत में जुलाई 2020 में बिक्री हुए इतने दोपहिया वाहन, सेल्स रिपोर्ट हुई जारी

Published

on

कोरोना के झटके से अब ऑटो सेक्टर तेजी से उबर रहा है। इसका असर अब वाहन कंपनियों की बिक्री पर भी देखने को मिल रहा है। दोपहिया सेगमेंट की बात करें तो जुलाई 2020 में मई 2020 और जून 2020 के मुकाबले जबरदस्त सुधार देखने को मिला है। हालांकि जुलाई महीने में मई 2020 और जून 2020 के मुकाबले अभी भी बिक्री में बड़ा अन्तर देखा जा रहा है। यहां हीरो, टीवीएस, होंडा और सुजुकी की जुलाई महीने में हुई बिक्री को लेकर बात होगी।

हीरो मोटोकॉर्प ने जुलाई 2020 में 5,14,509 यूनिट्स की बिक्री की है। जबकि, जुलाई 2019 में 5,35,810 इकाइयों की बिक्री की थी। भारतीय बाजार में हीरो ने जुलाई 2020 में 5,06,946 दोपहिया वाहनों की बिक्री की है। वहीं जुलाई 2019 में कंपनी ने 5,11,374 दोपहिया वाहनों की बिक्री की थी। जुलाई 2020 में हीरो ने भारत से बाहर 7,563 दोपहिया वाहनों को निर्यात किया। जबकि, जुलाई 2019 में ये आंकड़ा 24,436 इकाई का था। हीरो ने भारतीय बाजार में जुलाई 2020 में 4,78,666 मोटरसाइकिल्स और 35,843 स्कूटर्स की बिक्री की। जबकि जुलाई 2019 में कंपनी ने 4,90,058 मोटरसाइकिल्स और 45,752 स्कूटर्स की बिक्री की थी।

होंडा मोटरसाइकिल एंड स्कूटर इंडिया ने जुलाई 2020 में 3,21,583 यूनिट्स की बिक्री की। जुलाई 2019 की तुलना में कंपनी ने 4,55,000 की बिक्री की। भारतीय बाजार में होंडा ने जुलाई 2020 में 3,09,332 दोपहिया वाहनों की बिक्री की। वहीं, जुलाई 2019 में कंपनी ने 3,09,332 इकाइयों की बिक्री की थी। जुलाई 2020 में होंडा ने 12,251 दोपहिया वाहनों को निर्यात किया।

टीवीएस मोटर कंपनी ने जुलाई 2020 में 2,43,788 दोपहिया वाहनों  की बिक्री की। जबकि, जुलाई महीने में कंपनी ने 2,65,679 यूनिट्स की बिक्री की थी। टीवीएस ने भारतीय बाजार में जुलाई 2020 में 1,89,647 दोपहिया वाहनों की बिक्री की। वहीं 2019 में कंपनी ने 2,65,679 यूनिट्स की बिक्री की थी।

Continue Reading

टेक गाइड

Whatsapp में इस सप्ताह जुड़े कमाल के नए फीचर्स, जानें

Published

on

इंस्टैंट मैसेजिंग ऐप Whatsapp के इस समय दुनियाभर में 2 बिलियन (200 करोड़) एक्टिव यूजर्स हैं। भारत में भी इसके करीब 40 करोड़ यूजर्स है। Whatsapp के यूजर्स की संख्या दिन-प्रतिदिन बढ़ती ही जा रही है। Facebook के स्वामित्व वाले इस ऐप में लगातार यूजर्स की डिमांड पर नए फीचर्स जोड़े जाते रहे हैं। हाल ही में इस ऐप में कई और नए फीचर्स जोड़े गए हैं। साथ ही, Whatsapp लगातार अपने फोरम पर यूजर्स की डिमांड के आधार पर अपने फीचर्स टेस्ट करता रहता है। पिछले सप्ताह भी Whatsapp के कई नए फीचर्स को स्पॉट किया गया है, जिसे जल्द ही यूजर्स के लिए रोल आउट किया जा सकता है।

Whatsapp Web के लिए Messenger Room

Messenger Room को पहले से ही स्मार्टफोन यूजर्स के लिए रोल आउट किया जा चुका है। इस वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग फीचर का इस्तेमाल यूजर अपने Whatsapp और Facebook Messenger के साथ कर सकते हैं। इसमें एक साथ 50 लोगों के साथ वीडियो कॉलिंग की जा सकती है। Whastapp के इस फीचर को जल्द ही वेब यूजर्स के लिए भी रोल आउट किया जाएगा। WABeta Info की रिपोर्ट के मुताबिक, इस फीचर को हाल ही में स्पॉट किया गया है।

Mute Always Feature

इंस्टैंट मैसेजिंग ऐप पिछले कुछ समय से इस फीचर को टेस्ट कर रहा है। अभी आप किसी ग्रुप के मेंबर हैं तो आप उस ग्रुप को अधिकतम एक साल के लिए म्यूट कर सकते हैं। इस नए फीचर के आने का बाद आप किसी भी ग्रुप को अनिश्चित समय तक म्यूट कर सकते हैं। इसकी वजह से आपको अनवांटेड ग्रुप्स के नोटिफिकेशन्स मिलने बंद हो सकते हैं और आपको ग्रुप भी लेफ्ट नहीं करना होगा। WABeta Info की रिपोर्ट के मुताबिक, इस फीचर को वर्जन 2.20.197.3 के साथ रोल आउट किया जाएगा।

Whatsapp Web के लिए Dark Mode

Whatsapp ने अपने डार्क मोड फीचर को पिछले साल एंड्रॉइड और iOS यूजर्स के लिए रोल आउट किया था। इस मोस्ट अवेटेड फीचर को जल्द ही वेब यूजर्स के लिए भी रोल आउट किया जा सकता है। इस फीचर को भी हाल ही में स्पॉट किया गया है।

Self Destruction मैसेज

कंपनी एक और इंटरेस्टिंग फीचर को टेस्ट कर रही है वो है सेल्फ डिस्ट्रक्टिंग मैसेज। इस फीचर के रोल आउट होने के बाद यूजर्स किसी ग्रुप या चैट को सेल्फ डिस्ट्रक्शन मोड के लिए सिलेक्ट कर सकता है। फायदा ये होगा कि यूजर्स के पुराने मैसेज एक निश्चित समय के बाद अपने आप डिलीट हो जाएंगे।

Continue Reading

टेक ज्ञान

Google Pixel 4a की कल है लॉन्चिंग, जानें क्या है खास इस स्मार्टफोन में?

Published

on

Android ऑपरेटिंग सिस्टम बनाने वाली दिग्गज टेक्नोलॉजी कंपनी Google के मिड प्राइस रेंज वाले Pixel 4a सीरीज को कल यानि की 3 अगस्त को लॉन्च किया जाएगा। इस सीरीज में दो डिवाइसेज Pixel 4a और Pixel 4a XL लॉन्च किए जाएंगे। ये कंपनी के पिछले साल लॉन्च हुए Pixle 3a सीरीज का अगला मॉडल होगा। जैसा कि हम जानते हैं कि पिछले साल Google ने अपने Pixel 4 सीरीज को 5G नेटवर्क सपोर्ट के साथ लॉन्च किया था। कंपनी अपने इस मिड रेंज के स्मार्टफोन को भी 5G नेटवर्क सपोर्ट के साथ लॉन्च करने वाली है। फोन के 5G सपोर्ट होने के बारे में हाल ही में एक लीक सामने आया है।

लॉन्च से पहले हुआ टीज

टिप्सटर ईशान अग्रवाल ने Pixel 4a सीरीज के 5G वेरिएंट को टीज किया है। अग्रवाल द्वारा टीज किए गए फोटो में फोन में मेटलिक बॉडी और कैमरा बंप साइड कीज के साथ देखने को मिला है। Google Pixel 4a सीरीज को Android 11 के साथ पेश किया जा सकता है। इस ऑपरेटिंग सिस्टम के साथ पेश होने वाला ये पहला स्मार्टफोन सीरीज हो सकता है। वहीं, कंपनी का Pixel 5 सीरीज साल के अंत में लॉन्च किया जा सकता है।

Your first look at Google’s 5G Pixel lineup, coming this fall.

The one on the right is the Pixel 5 5G, judging by the Brushed Metal Frame.

The Pixel 4a 5G may be a bigger phone (basically XL) than the standard #Pixel4a launching tomorrow.

👉🏻 Thanks @samsungbloat for the info! pic.twitter.com/nWRbDB3vcU

— Ishan Agarwal (@ishanagarwal24) August 2, 2020

संभावित फीचर्स (Google Pixel 4a features)

Google Pixel 4a सीरीज को क्वालकॉम स्नैपड्रैगन 765G SoC के साथ पेश किया जा सकता है। साथ ही, कंपनी के नए सीरीज में AMOLED डिस्प्ले पैनल का इस्तेमाल किया जा सकता है। Google के पिछले साल लॉन्च हए स्मार्टफोन की तरह ही इसका लुक और डिजाइन देखने को मिल सकता है। इस सीरीज के बेस वेरिएंट Pixel 4a की डिस्प्ले XL मॉडल के मुकाबले छोटी होगी। टीज किए गए तस्वीर में ये देखा जा सकता है। फोन को दो स्टोरेज ऑप्शन्स 6GB RAM और 8GB RAM में पेश किया जा सकता है। फोन में 128GB और 256GB स्टोरेज ऑप्शन दिया जा सकता है।

संभावित कीमत (Google Pixel 4a Price in India)

फोन के कीमत की बात करें तो इसे $349 (लगभग 26,000 रुपये) की शुरुआती कीमत में लॉन्च किया जा सकता है। इसका सीधा मुकाबला हाल ही में लॉन्च हुए OnePlus Nord से हो सकता है। फोन के कैमरे फीचर्स की बात करें तो इसके बैक में 12.2MP का ड्यूल पिक्सल कैमरा सेंसर देखने को मिल सकता है। वहीं, फ्रंट में 10MP का कैमरा दिया जा सकता है। फोन के बारे में अन्य जानकारियां लॉन्च के बाद ही पता चलेगा। इस स्मार्टफोन का लॉन्च इवेंट कंपनी के आधिकारिक सोशल मीडिया हैंडल पर आयोजित किया जाएगा।

Continue Reading

ऐप्स न्यूज़

चीन पर भारत का दूसरा डिजिटल वार अब 47 चीनी ऐप्स किए बैन.

Published

on

गलवान वैली में चीन की नापाक हरकत पर बड़ी कार्रवाई करते हुए भारत ने कुछ दिनों पहले चीन के 59 ऐप्स को भारत में बैन (59 apps banned in india) कर दिया था। जिसके चलते चीन को काफी नुकसान उठाना पड़ा था। चीन से जुड़ी कंपनियों पर भारत सरकार ने फिर एक बार बड़ी कार्रवाई की है। भारत सरकार ने अब चीन के 47 ऐप्स बैन (47 chinese apps banned in india) कर दिए हैं। उसमें टिकटॉक लाइट (Tiktok Lite) और कैम स्कैनर एडवांस वाले ऐप्स भी शामिल हैं। इससे पहले भारत सरकार देश में चीन की कंपनियों के निवेश की जांच करने की भी घोषणा कर चुकी है।

सरकार के मुताबिक ये चीनी ऐप्स कुछ समय पहले बैन किए गए ऐप्स के क्लोन के तौर पर काम कर रहे थे। सरकार ने इससे पहले 59 एप बैन (59 apps banned) किए थे। इनमें टिक टॉक, वी चैट से लेकर अली बाबा का यूसी न्यूज और यूसी ब्राउजर शामिल थे।

सरकार के सूत्रों के मुताबिक 275 ऐसे चीनी ऐप्स हैं जिन्हें राष्ट्रीय सुरक्षा के लिए खतरनाक माना गया है। अब बैन किए गए ऐप्स में ज्यादातर क्लोनिंग ऐप शामिल हैं। यानी पहले से बैन ऐप के जैसे ऐप बनाकर उतार दिए गए थे। भारत ने चीनी ऐप्स ये खिलाफ कार्रवाई गलवान घाटी में झड़प के बाद शुरू की थी। जो अब तक चीनी ऐप्स पर प्रतिबंध करते हुए चल रही है। भारत में चीनी ऐप्स बैन के कारण चीनी कंपनियों को पहले ही भारी नुकसान खेलना पड़ा था।

ख़बरों के मुताबिक चीन की कंपनी यूसी वेब पर भारत के खिलाफ खबरें चलाने का आरोप लगा है। चीन के अलीबाबा ग्रुप की कंपनी यूसी वेब के खिलाफ पूर्व असोसिएट डायरेक्टर ने गुड़गांव कोर्ट में याचिका दायर की है। आरोप है कि वेबसाइट पर चलाई गई फेक न्यूज का विरोध किया तो कंपनी ने उन्हें नौकरी से निकाल दिया। याचिका पर संज्ञान लेते हुए सिविल जज जूनियर डिविजन सोनिया श्योकंद की कोर्ट ने अलीबाबा और फाउंडर जैक मा को नोटिस जारी किया है।

Read more : भारत में PUBG सहित 275 चीनी ऐप हो सकते हैं बैन, सरकार ने तैयार की लिस्ट

भारत की संप्रुभता, एकता और अखंडता विरोधी गतिविधियों के आरोप में केंद्र सरकार ने चीन के जिन 47 ऐप्स को बैन (47 apps banned in india) किया है और पहले जो 59 चीनी ऐप्स बैन (59 chinese apps banned) किये थे, अब इसके साथ ही चीन के कुल 106 मोबाइल ऐप्स पर बैन लगा दिया गया है। रिपोर्ट्स के अनुसार, इस संबंध में जल्द ही बाकी सूचना जारी की जायेगी।

बता दें राष्ट्रीय सुरक्षा और उपभोक्ता के प्राइवेसी को लेकर 275 ऐप भी भारत सरकार के निशाने पर आ गए हैं। इसमें पबजी एवं अली एक्सप्रेस जैसे ऐप भी शामिल हैं। केंद्र सरकार ने इन 275 ऐप्स की पहचान जांच के लिए की है। यदि इन ऐप्स में राष्ट्रीय सुरक्षा या अन्य कोई भी उल्लंघन पाया जाता है तो चीनी के और भी ऐप्स पर भी बैन लगाए जा सकते हैं। साथ ही केंद्र सरकार चीनी ऐप्स (Chinese apps) के अलावा ऐसे भी ऐप्स पर नजर रख रही है जिनका चीन में निवेश है। साथ ही केंद्र सरकार चीनी ऐप्स के अलावा ऐसे भी ऐप्स पर नजर रख रही है जिनका चीन में निवेश है।

Continue Reading

ऐप्स न्यूज़

भारत में PUBG सहित 275 चीनी ऐप हो सकते हैं बैन, सरकार ने तैयार की लिस्ट

Published

on

भारत और चीन के बीच सीमा पर चल रहे तनाव के बीच भारत सरकार चीनी ऐप्स के प्रति सख्त रूख अपना चुकी है। पिछले दिनों भारत में टीकटोक सहित 59 चीनी ऐप्स पर बैन (chinese app banned in india) लगा दिया गया था। ख़बर है अब एक बार फिर सरकार द्वारा कुछ और चीनी ऐप्स पर बैन लगाया जा सकता है। सरकार ने PUBG सहित लगभग 275 चीनी ऐप्स की जांच (Pubg ban in india) कर लिस्ट तैयार की है। ​ सरकार जाँच कर रही है क़ि इनसे नेशनल सिक्योरिटी और यूजर प्राइवेसी को कोई खतरा तो नहीं है। अगर कोई ऐप इस जांच में फेल होता है तो सरकार की उसे बैन करने की तैयारी है।

इन 275 चीनी ऐप्स में मशहूर गेमिंग ऐप PUBG भी (Pubg ban in india) शामिल है। इसके अलावा Xiaomi की Zili ऐप, Alibaba की Aliexpress ऐप, Resso ऐप और Bytedance की ULike ऐप जैसी कई पॉपुलर ऐप्स भी सरकार की सूची में शामिल हैं। जानकारी के अनुसार सरकार उन ऐप्स पर विशेष ध्यान दे रही है जिनका सर्वर चीन में है। साथ ही अन्य चीनी ऐप्स मीजू, एलबीई टेक, परफेक्ट कॉर्प, सिना कॉर्प, नेटेज गेम्स, यूज़ू ग्लोबल जैसे टेक मेजर के ऐप भी इस सूची में हैं। चीनी इंटरनेट कंपनियों के भारत में लगभग 300 मिलियन अद्वितीय उपयोगकर्ता हैं।

Read more: Vivo S7 5G के फीचर्स हुए लीक, 44MP ड्यूल पंच-होल कैमरे के साथ हो सकता है लॉन्च

हालांकि PubG वीडियो गेम को दक्षिण कोरियाई वीडियो गेम कंपनी चीन की एक सहायक कंपनी द्वारा विकसित किया गया है, यह चीन के सबसे मूल्यवान इंटरनेट नेटवर्क द्वारा भी समर्थित है। साथ ही भारत में भी पबजी का सबसे बड़ा बाजार है। ऐप इंटेलिजेंस फर्म सेंसर टॉवर के अनुमान के मुताबिक, भारत में अब तक PubG ने अब तक लगभग 17.5 करोड़ इंस्टाल किए हैं। इसीलिए बैन (Pubg ban in india) की सूचि में Pubg का भी नाम शामिल है।

खबरों की मानें तो 275 चीनी ऐप्स का लगातार रिव्यू करके यह जानकारी जुटाने की कोशिश की जा रही है कि उन 275 चीनी ऐप्स को फंड कहां से मिल रहा है। सरकार को शक है कि कुछ ऐप्स राष्ट्रीय सुरक्षा के लिए खतरा हो सकती हैं और कुछ ऐप्स डेटा चुराने व प्राइवेसी के नियमों का उल्लंघन करने की दोषी हो सकती हैं।

सरकार मूल्यांकन के आधार पर इन ऐप्स पर प्रतिबंध लगा सकती है। इलेक्ट्रॉनिक्स और सूचना प्रौद्योगिकी मंत्रालय के एक अधिकारी ने बताया कि सरकार इन चीनी ऍप्स पर प्रतिबंध लगाने से पहले उचित प्रक्रिया का पालन करेगी। इन सब ऐप्स की इंटरनेट पर जाँच होगी।

भारत सरकार साइबर सिक्योरिटी को लेकर काफी गंभीर है। सरकार देश के नागरिकों के डेटा को सिक्योर करना चाहती है। इसलिए सरकार ऐप्स के लिए कुछ नियम बना रही है, जिनका पालन सभी ऐप्स को करना होगा। जो ऐप्स नियमों का उल्लंघन करेंगी उन्हें बैन किया जा सकता है। इन नियमों में बताया जाएगा कि किसी ऐप को क्या करना है और क्या नहीं करना है।

बता दें केंद्र सरकार ने कुछ दिन पहले ही 59 चीनी ऐप्स (59 chinese apps banned in india) पर बैन लगाया था। सरकार ने कारण बताया था कि ये ऐप्स नेशनल सिक्योरिटी और डेटा प्रोटेक्शन के लिए खतरनाक हैं। इन चीनी ऐप्स के द्वारा भारत के नागरिकों का पर्सनल डाटा चोरी हो रहा है। इन 59 चीनी ऐप्स में टिकटॉक, वलाइकी, UCWeb, UC न्यूज़ और कैमस्कैनर जैसी पॉपुलर ऐप्स शामिल थे।

Continue Reading

बिहार के डीजीपी ने सुशांत सिंह राजपूत मामले में मुंबई पुलिस की मंशा पर उठाए सवाल

5 अगस्त से खोले जाएंगे जिम-योग सेंटर, जानिए पूरी जानकारी

रिया चक्रवर्ती के वकील सतीश मानशिंदे ने कहा- नहीं हुईं एक्ट्रेस लापता…

कक्षा छठी से आठवीं तक के लिए वैकल्पिक शैक्षणिक कैलेंडर लॉन्च

Sushant Singh Case: दिशा सलियन से लेकर रिया चक्रवर्ती तक, मुंबई पुलिस ने किए ये बड़े खुलासे, जानिए

Corona in Bihar: बिहार में कोरोना का कहर जारी, अब तक 336 की मौत, संक्रमित मरीजों का आंकड़ा 60 हजार के करीब

मनीष शर्मा करेंगे Tiger 3 को डायरेक्ट, इस बार आमने-सामने होंगे जोया और टाइगर

एकता की XXX Uncensored पर बवाल, सेना की छवि खराब दिखाने पर सरकार सख़्त, रक्षा मंत्रालय ने एनओसी लेने को कहा

बागी विधायकों के वापसी शर्त पर बोली कांग्रेस- पहले BJP से दोस्ती तोड़ घर लौटें

KGF 2 में संजय का लुक इस हॉलीवुड कैरेक्टर से है इंस्पायर्ड, लुक कॉपी करने के लगे आरोप

बॉलीवुड2 weeks ago

Sushant Singh Rajput को न्याय दिलाने के लिए शुरू हुआ डिजिटल प्रोटेस्ट

राजनीति3 days ago

राजस्थान ब्रेकिंग: विधायकों के खरीद फरोख्त से जुड़ी ऑडियो FSL जांच में सही पाई गई

फिल्म रिव्यु2 weeks ago

Dil Bechara movie Review: जिंदगी को दिल खोलकर जीना सिखाती है सुशांत की आखिरी फिल्म

उत्तर प्रदेश3 days ago

UP के बुलंदशहर में 25 जुलाई से लापता वकील की मिली लाश, प्रियंका बोलीं- UP में क्राइम-कोरोना कंट्रोल से बाहर

फिल्म रिव्यु1 week ago

सुशांत की आखिरी फिल्म Dil Bechara ने रिलीज होते ही IMDB Rating से बनाया नया रिकॉर्ड

बॉलीवुड6 days ago

भारत के सबसे महंगे वकीलों में से एक सतीश मनेशिंदे लड़ेंगे रिया चक्रवर्ती का केस

देश4 days ago

सुशांत सिंह सुसाइड मामले की जांच CBI को ट्रान्सफर करने पर बोले CM उद्धव- उनके फैन्स को बताना चाहता हूँ…

देश6 days ago

Sushant Suicide Case: महाराष्ट्र सरकार ने कहा CBI जांच की जरूरत नहीं

बॉलीवुड2 weeks ago

बड़ा खुलासा: सुशांत पर भी लगा था MeToo का आरोप, संजना सांघी ने बताई पूरी सच्चाई

बॉलीवुड6 days ago

FIR के बाद भी रिया चक्रवर्ती की गिरफ्तारी ना होने पर बिहार पुलिस का खुलासा…

ट्रेंडिंग न्यूज़